Kathal Benefits and Side Effects in Hindi

कटहल के फायदे और नुकसान || Kathal (Jackfruit) Benefits and Side Effects in Hindi

स्वास्थ्य

हेल्थ इज वेल्थ (Health is Wealth) इस कथन को कोरोना काल (Corona Period) ने काफी अच्छे से समझा दिया है, यही कारण है कि अब अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने (Immunity Boost) के लिए लोग पोस्टिक आहार का सेवन करने लगे हैं। इम्यूनिटी (Immunity) बनाने के लिए कटहल (Jackfruit) भी काफी फायदेमंद बताया गया है। कटहल को फनस भी कहा जाता है। यह सब्जी भी कहलाती है और फल भी कहलाता है। जब कटहल (Jackfruit ) कच्चा होता है तो इससे सब्जी (Vegetable) के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है, वही जब कटहल पक जाता है तो इसका फल (Fruit) के रूप में  सेवन किया जाता है। कटहल की सिर्फ मसालेदार सब्जी नहीं बनती है, बल्कि इसके कोफ्ते, पकोड़े, अचार और कबाब भी बनाए जाते हैं। विभिन्न प्रकार से कटहल (Jackfruit) का सेवन किया जाता है।

ये भी पढें-  Healthy Diet Tips : सुबह बासी मुंह इन 6 चीजों का करें सेवन, शरीर रहेगा रोग मुक्त

Table of Contents

कई बीमारियों से छुटकारा दिलाता है कटहल || Jackfruit protects from many diseases

कटहल ना सिर्फ बॉडी में इम्यूनिटी की क्षमता को बढ़ाता है बल्कि यह कई बीमारियों से भी बचाता है। दरअसल कटहल में विटामिन सी और ए (Vitamin A,C) और एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidant) पाया जाता है जो शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है। वही कटहल में प्रोटीन की मात्रा काफी बढ़ जाती है और पोटैशियम  (potassium) कैल्शियम (calcium) विटामिन सी (vitamin C) आईरन (iron) जिंक (Zinc) कटहल में काफी मात्रा में पाया जाता है। कटहल में फाइबर के गुण भी मिलते हैं जिसके चलते पाचन की प्रक्रिया बेहतर होती है। कटहल के कई तरह के फायदे होते हैं और यह गुणों का खजाना माना जाता है। आइए जानते हैं कटहल के चमत्कारी फायदे के बारे में।

कटहल के फायदे || Kathal ke Fayde in Hindi

डाइजेशन की समस्या को दूर करता है कटहल | Jackfruit removes the problem of digestion

काम की व्यस्तता की वजह से हमारे खाने पीने का कोई टाइम फिक्स नहीं होता है, जिसके वजह से डाइजेशन (Digestion) की समस्या काफी आम बात हो गई है। अगर आप भी डाइजेशन की समस्या (problem of digestion) से परेशान है तो इससे निजात पाने के लिए  कटहल का इस्तेमाल कर सकते हैं। कटहल पाचन संबंधी समस्या और अल्सर (Ulcer) जैसी समस्या को दूर करने के लिए काफी कारगर माना गया है, इसके साथ ही यह कब्ज (Constipation) से भी छुटकारा दिलाता है।

मोटापा को रोकने में काफी फायदेमंद है कटहल | Jackfruit is very beneficial in preventing obesity

आजकल हर कोई बढ़ते हुए वजन की समस्या (Obesity) से जूझ रहा है। वजन को कम करने के लिए कोई डाइट (Diet) करता है तो कोई जिम (Gym) जॉइन करता है। इसके साथ ही कई लोग दवाइयां का भी इस्तेमाल करते है जिसके काफी साइड इफेक्ट्स भी होते हैं । अगर आप भी अपना वजन कम करने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं तो इसके लिए आप कटहल (Jackfruit)  का उपयोग कर सकते हैं। कटहल में रेसवेरेट्रॉल (resveratrol) नाम के एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidants) पाए जाते हैं। वही जो कटहल पका हुआ होता है उसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण (anti inflammatory properties) काफी हद तक मौजूद होते हैं जो मोटापे को रोकने में काफी कारगर साबित होता है।

ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है कटहल | Jackfruit controls blood pressure

पका हुआ कटहल (ripe Jackfruit ) खाने से दिल से संबंधित बीमारियां भी दूर रहती हैं, इसमें पोटैशियम  (potassium) मौजूद होता है जो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल (Control Blood Pressure) करता है , जिसके चलते हार्ट (Heart) से संबंधित बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। यही वजह है कि डॉक्टर द्वारा भी इसके सेवन की सलाह दी जाती है।

रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है कटहल | Jackfruit boosts immunity

कोरोनावायरस (Corona Virus) के इस दौर में रोगप्रतिरोधक क्षमता (immunity) को  बढ़ाने के लिए काफी जोर दिया जा रहा है। इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए लोगों द्वारा हर तरह के उपाय किए जा रहे हैं, चाहे वह घरेलू नुस्खे हो या फिर मार्केट में प्रचलित हो रही दवाइयां अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए लोग इसका सेवन कर रहे हैं। अगर आप भी अपनी इम्यूनिटी (immunity) बनाना चाह रहे हैं तो आप पके हुए कटहल (Jackfruit ) का इस्तेमाल कर सकते हैं। पका हुआ कटहल इम्यूनिटी को स्ट्रांग करने में काफी मदद करता है, इसके साथ ही ये यूनिटी बूस्टर की तरह काम करता है।

आंखों की समस्याओं से हो रहे है पेरशान,करें कटहल का सेवन | Eye problems are bothering you, eat jackfruit

कटहल में मौजूद विटामिन Aआंखों की समस्याओं को दूर करने के लिए बहुत ही कारगर मनाया गया है। इसमें कई पोषक तत्व पाए जाते है जो आंखों को स्वस्थ्य बनाते है। इसमें मौजूद विटामिन ए और सी से आंखों की दृष्टि में काफी सुधार पाया जाता है, इसके साथ ही यह आंखों से जुड़ी समस्या जैसे कि रात का अंधापन (Night blindness), मोतियाबिंद (cataracts),  धब्बेदार अध: पतन (macular degeneration) को रोकने में काफी कारगर माना गया है। दरअसल कटहल में मौजूद विटामिन ए, श्लेष्म झिल्ली (mucous membrane) को मजबूत करता है. जो कॉर्निया (cornea) पर परत बनाने का काम करता है, इसके साथ ही यह वायरस संक्रमण और बैक्टीरिया से आंखों को बचाता भी है।

हड्डियों को मजबूत करता है कटहल | Jackfruit strengthens bones

हड्डियों को मजबूत (Strengthen bones) करने के लिए भी कटहल (Jackfruit) का उपयोग किया जाता है। कटहल में मैग्नीशियम (magnesium) की मात्रा कई ज्यादा पाई जाती है, जो कैल्शियम के अवशोषण में काफी मदद करता है। हड्डियों को मजबूत करने के लिए मैग्नीशियम और कैल्शियम (Magnesium and Calcium) दोनों साथ में काम करते हैं और ऑस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis) को रोकते हैं। कटहल हड्डियों में कैल्शियम के घनत्व को सुधारने का काम भी करता है।

 

कटहल खाने के नुकसान || Kathal ke Nuksan in Hindi

पेट की समस्याओं को दे सकता है बढ़ावा, बल्ड डिसऑर्डर को भी दे सकता है बढ़ावा

वहीं अगर कटहल  का ज्यादा सेवन किया जाए तो पेट में समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं।  कटहल का ज्यादा सेवन करने से ब्लोटिंग (bloating), एसिडिटी (Acidity) और दस्त (diarrhea) जैसी समस्याएं हो सकती हैं। वही कटहल ब्लड डिसऑर्डर (blood disorder) जैसी समस्याओं को भी बढ़ावा देता है। कटहल के कारण बल्ड में ग्लूकोज (Glucose) को बढ़ता है जो ब्लड डिसऑर्डर की समस्याओं को बढ़ाता है। ऐसा माना जाता है कि डायबिटिक पेशेंट (Diabetic patient) के लिए कटहल अच्छा होता है, लेकिन कटहल ब्लड में ग्लूकोस के लेवल को इफेक्ट करता है, जिससे डायबिटीज (Diabetes) वाले मरीजों के लिए खतरा बढ़ जाता है। डायबिटीज वाले पेशेंट को डॉक्टरों द्वारा सीमित मात्रा में ही कटहल का सेवन करने की सलाह दी जाती है। इसके साथ ही यदि आप किसी तरह की एलर्जी (Allergies) से जूझ रहे हैं तो कटहल खाने से बचना चाहिए। अगर किसी को एलर्जी है और वह कटहल (Jackfruit) खाता हैं तो उनकी परेशानी में इजाफा हो सकता है।

गर्भवती महिलाओं को कटहल नही खाना चाहिए, हो सकता है गर्भपात

कटहल (Jackfruit)  के कई ज्यादा फायदे होते हैं, वहीं इसके नुकसान भी है। कटहल (Jackfruit ) शरीर को कई तरह के नुकसान भी पहुंचाता है। कुछ ऐसी बीमारियां भी है जिसमें अगर कटहल का सेवन किया जाए तो वह सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है। इस स्थिति में एक लिमिट में ही कटहल का सेवन करना चाहिए। आइए जानते हैं कटहल के साइड इफेक्ट (Jackfruit Side Effects) के बारे में। जो महिलाएं प्रेग्नेंट (Pregnant Women) है उन्हें कटहल से परहेज करना चाहिए। दरअसल कटहल में इनसोल्युबल फाइबर (insoluble fiber) मौजूद होता है जो जच्चा और बच्चा दोनों के स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक होता है। कटहल से गर्भपात (abortion) होने की समस्या बढ़ जाती है। वहीं जिन महिलाओं की डिलीवरी हुई है और वह ब्रेस्टफीडिंग (Breastfeeding) करवा रही हैं उन्हें भी कटहल से दूर रहना चाहिए।

ये भी पढें-  पुदीने का सेवन दिलाये अनेक रोगों से मुक्ति, जानें इसके फायदे || Benefits of Mint Leaves in Hindi

नोट- ऊपर दी गई जानकारियां सामान्य रिसर्च पर आधारित है, इसकी पुष्टी NewsHeights.com नहीं करता है, इसको उपयोग में लेने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य ले लें।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.