Insomnia treatment in Hindi

Insomnia: अच्छी नींद के लिए किन बातों पर ध्यान देना चाहिए?

स्वास्थ्य

नींद की बीमारी होना आजकल तो आम सी बीमारी बन कर रह गई। यदि आप भी नींद की बीमारी से पीड़ित हैं जिसे हम अनिद्रा या insomnia के रूप में जानते है और बेहतर नींद का इलाज ढूंढ रहे हैं तो यह article आपको अनिद्रा (insomnia) की समस्या से बाहर निकलने में आपकी मदद करेगा। इस article में आप नींद और उसके कारणों एवं उपचारो की महत्वपूर्ण बातों के बारे में जानेंगे।

इसे भी पढें-   Brown rice: स्वास्थ्य के लिए क्यों है फायदेमंद? || Brown Rice Benefits in Hindi

नींद की बीमारी क्या है? What is the main cause of insomnia?

अनिद्रा (Insomnia) एक नींद की बीमारी है जिसमें नींद आने में बहुत मुश्किल होती है। अनिद्रा (insomnia) के वजह से सोने में दिक्कत होती है अथार्त नींद देर से आना या फिर बहुत देर तक जगे रहना या फिर एक बार नींद खुलने पर वापस से नींद नहीं आना ये सारी चीजे अनिद्रा (Insomnia) के लक्षणो को दर्शाता है। अनिद्रा (Insomnia) से पीड़ित लोग नींद से जागने के बाद तरोताजा महसूस नहीं करता हैं। यदि आप बेहतर नींद नहीं लेते हैं तो यह आपके निजी जीवन में गंभीर कठिनाइयों का कारण बन सकता है। आज के समय में बच्चो में भी नींद न आने बिमारी (Insomnia in kids) बहुत बढ गयी है।

अच्छी नींद के लिए क्या करें? Insomnia treatment in Hindi

वैसे तो यह बात सभी जानते हैं कि रात की नींद हमारे शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। रात वाली नींद उतना ही जरूरी है जितना कि नियमित व्यायाम और भोजन। बेहतर नींद आपको स्वस्थ और तरोताजा बनाती है।

बेहतर नींद के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स: Indian home remedies for good sleep

दोपहर को ज्यादा देर तक न सोये (Do not sleep for long in the afternoon)

यह अक्सर देखा गया है कि रात में जागने का एक कारण दोपहर की लंबी झपकी है। दिन के समय सोना आपके body clock को गङबङ कर सकता है अथार्त दोपहर की लम्बी नींद के वजह से अक्सर लोगो को रात में नींद आने में तकलीफ होती है। दिन में कम सोया करे, जिससे आपका body clock ठीक रहे, लेकिन लंबी अनियमित झपकी आपकी नींद और स्वास्थ्य दोनो को ही प्रभावित कर सकती है।

नींद न आने पर रात में कैफीन का सेवन न करे (Do not drink caffeine at night if you do not sleep)

कैफीन तो आजकल सभी का लोकप्रिय पेय बन गया है। ज्यादातर 90% आबादी नियमित रूप से कैफीन (Caffeine) का सेवन करती है, लेकिन क्या आप जानते है यह आपकी नींद को प्रभाव डालती है? जी हां यदि आप सोने से 6 घंटे पहले तक कैफीन का सेवन करते है तो इससे आपकी नींद की गुणवत्ता खराब होती है। यह बात सच है कि कैफीन के सेवन से हमारे तंत्रिका तंत्र उत्तेजित होता है और जिस वजह से रात में शरीर को प्राकृतिक रूप से आराम करने से रोकता है।

नियमित समय पर सोने और जागने की कोशिश करें (Try to sleep and wake up on a regular time)

रात को जल्दी सोना और सुबह जल्दी उठना बेहतर नींद के लिए अच्छा माना जाता है। जिन लोगों की नींद का समय अनियमित होता है उनकी नींद अक्सर खराब होती है। सोने का अनियमित pattern आपके circadian rhythm को प्रभावित कर सकता है। बेहतर नींद के लिए आपको समय पर सोना चाहिए और समय पर उठना चाहिए।

रात में मदिरा का सेवन न करे (Do not drink alcohol at night)

बेहतर नींद के लिए रात में मदिरा (Alcohol) का सेवन न करे। Alcohol में melatonin products होता हैं जो आपके शरीर की circadian rhythm में विशेष भूमिका निभाता हैं। साथ ही मदिरा (Alcohol) का सेवन sleep apnea, snoring और कई अन्य लक्षणों को बढ़ाती है। रात में मदिरा (Alcohol) का सेवन आपकी नींद और हार्मोन पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है।

प्रतिदिन नियमित रूप से व्यायाम करें (Exercise regularly every day)

व्यायाम (Exercise) खुद को स्वस्थ रखने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है और बेहतर नींद के लिए सबसे अच्छे factors में से एक है। व्यायाम (Exercise), अनिद्रा (Insomnia) के लक्षणों को कम करता है। कभी-कभी, यह कई दवाओं से कहीं बेहतर काम करता है। नियमित व्यायाम (Exercise) चिंता को कम करता है, कमजोरी को ठीक करता है और आपके नींद में 18% की वृद्धि करता है। लेकिन दिन में देर से exercise करने से नींद की समस्या भी हो सकती है। इसलिए व्यायाम (Exercise) हमेशा एक निश्चित समय पर ही करें।

सोने से पहले नहा ले (Take a shower before bed)

सोने से पहले आराम से नहाना (bath) बेहतर नींद के लिए एक और सबसे अच्छा तरीका है। यह नींद की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद करता है और बुजुर्गो को जल्दी सोने में मदद करता है।

सोने से 90 मिनट पहले गर्म पानी से स्नान करने से नींद की गुणवत्ता में सुधार होता है और यदि आप पूर्ण स्नान नहीं करते हैं तो अपने पैरों को गर्म पानी से धो लें, इससे आपको अपनी नींद में सुधार करने में मदद मिल सकती है।

रात को देर से खाना ना खाये (Do not take food late at night)

देर रात खाने से आपकी नींद प्रभावित हो सकती है, इतना ही नही रात के भोजन में आप क्या ले रहे है या फिर किस प्रकार का भोजन कर रहे है यह सब प्रमुख भूमिका निभाते हैं। सोने से चार घंटे पहले रात में उच्च कार्बोहाइड्रेट भोजन आपको जल्दी नींद लाने में मदद करता है लेकिन कभी-कभी कम कार्बोहाइड्रेट वाला भोजन भी आपको बेहतर नींद में मदद करता है इसलिए कभी भी भूखे पेट न सोएं।

सोने से पहले कमरे का तापमान सेट करें (Set room temperature before good sleep)

हमारे शरीर और कमरे का तापमान (Temperature) भी बेहतर नींद का एक कारण हो सकता है। बीस डिग्री सेल्सियस कई लोगों के लिए एक आरामदायक temperature माना जाता है, लेकिन यह पूरी तरह से आपकी पसंद और आदतों पर निर्भर करता है। ऐसा कहा जाता हैं कि शरीर और room का temperature बढ़ने से नींद की गुणवत्ता कम हो जाती है और जागने में वृद्धि होती है।

इसे भी पढें-  सोयाबीन खाना क्यों आवश्यक है सोयाबीन के फायदे क्या है? || Benefits of Soybean in Hindi

यह थे कुछ महत्वपूर्ण टिप्स जो अच्छी नींद आने में मदद करेगा लेकिन बेहतर नींद के लिए सोने से पहले अपनी चिंताओं को दूर करने की कोशिश करे क्योकि तनाव या चिन्ता के कारण नींद में मुश्किले आ सकती है। इन सभी tips के बाद भी अगर नींद न आने (Insomnia) की समस्या है तो अपने डॉक्टर से तुरन्त संपर्क करें।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.