Career after 12th arts

Career after 12th arts | 12वीं के बाद आर्ट्स में करियर | 12th Arts के बाद क्या करे

कैरियर भारत

अक्सर दसवीं के बाद छात्र छात्राएं सब्जेक्ट सिलेक्ट (Subject select) करने में परेशान होते हैं कि उन्हें साइंस सब्जेक्ट (Science Subject) लेना चाहिए या कॉमर्स सब्जेक्ट (Commerce subject) लेना चाहिए या फिर आर्ट्स सब्जेक्ट (Arts subject) लेना चाहिए। जिसके बाद जैसे तैसे छात्र अपने विषय का चयन तो कर लेते हैं, लेकिन 12वीं पास हो जाने के बाद उनके सामने फिर से एक समस्या आ खड़ी होती है और वह है कैरियर ऑप्शन (Carrier option) की। जिसमें वे सोचते है कि अब आखिर उन्हें अपने विषय में आगे बढ़ कर क्या करना चाहिए। वैसे तो साइंस के स्टूडेंट्स (Science students) को पता होता है कि उन्हें मेडिकल फील्ड में जाना है या इंजीनियरिंग फील्ड में इसके अलावा उन्हें ग्रेजुएशन की डिग्री (Graduation degree) प्राप्त कर आगे क्या करना है। वहीं आमतौर पर देखा जाता है कि आर्ट्स सब्जेक्ट (Arts subject) को साइंस और कॉमर्स से कम समझा जाता है, जबकि कॉमर्स और साइंस सब्जेक्ट के मुकाबले आर्ट्स के छात्रों (Arts students) के पास कैरियर ऑप्शन (Carrier option) ज्यादा हैं। क्योंकि उनके लिए कई तरह के प्लेट फॉर्म आ चुके है, जिसमें वह अपना सुनहरा कैरियर बना सकते है। बस इसके लिए सही गाइडेन्स की आवश्यकता होती है। आइए जानते है कि आखिर आर्ट्स के स्टूडेंट्स (Arts students) के लिए क्या-क्या कैरियर ऑप्शन्स है।

ये भी पढें-   हौसले के आगे झुकी दुनिया, देश की सबसे छोटे कद की वकील हरविंदर कौर की हो रही चर्चा

आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स के पास कैरियर के क्या ऑप्शन्स है? What are Career options after 12th arts stream students?

यदि 12वीं के बाद स्टूडेंट्स यह कहकर निराश होते है, कि हम तो आर्ट्स स्ट्रीम (Arts stream) वाले छात्र है, हम क्या करेंगे, तो यह बिल्कुल गलत है। क्योंकि वर्तमान समय में आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स के लिए विकल्पों की भरमार है। जो मेहनत करके एक सक्सेस गवर्नमेंट ऑफिसर (Success government officer), बिजनेसमैन (Businessman), शिक्षक (Teacher), डिजाइनर (Designer), वकील (lawyer), एक्टर (Actor), मीडिया परसन, सिंगर (Singer) आदि बन सकते हैं, लेकिन इन सबको करने से पहले उन्हें एक बेहतर विषय और पेशे का चुनाव करना होगा। जिसके बाद ही वह अपने कार्य को आगे बढ़ा सकता है।

आर्ट्स स्ट्रीम के छात्रों के पास उच्च शिक्षा के है बेहतरीन विकल्प | Which course is best after 12th arts?

आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स (Arts stream students) के पास उच्च शिक्षा के बेहतर विकल्प है। जिसमें से पहला है बीए जनरल (BA General) और कई तरह के ऑनर्स कोर्स। ऑनर्स कोर्स का छात्रों को कई तरह के फायदे मिलते हैं। बता दें कि बीए जनरल कोर्स में अलग-अलग विषयों का कॉन्बिनेशन सेलेक्ट करना पड़ता है। वही बीए ऑनर्स कोर्सेज (BA Honors Courses) में एक विशेष का चयन कर उसके विभिन्न सब्जेक्ट की पढ़ाई करनी पड़ती है। अगर हम बीए ऑनर्स की बात करें तो इसमें बीए इकोनॉमिक्स (BA Economics), बीए राजनीति विज्ञान (BA Political Science), बीए इतिहास (BA History), बीए जियोग्राफी (BA Geography) और सिविल सर्विसेज (Civil Services) से संबंधित कोर्सेस शामिल है।

सही विषय का करें चुनाव, ले सकते है एक्सपर्ट्स की राय

वर्तमान समय इंटरनेट (Internet) का है, आज हर स्टूडेंट्स को स्मार्टफोन चलाना आता है। जिसके माध्यम से यह तो सभी जानते हैं कि आर्ट्स स्ट्रीम के छात्रों के लिए करियर ऑप्शन्स बेहद ज्यादा है। जिसमें सबसे महत्वपूर्ण यह होता है कि उन्हें एक सही विषय का चुनाव करना चाहिए। अगर वह सही विषय का चुनाव करता है और उसमें विशेष रूचि होती है, तो वह आगे चलकर उसमें अपनी अच्छी पकड़ बना सकता है और एक बेहतर कैरियर चुन सकता है। यदि किसी स्टूडेंट को सही विषय चुनाव करने में दिक्कत आती है, तो वह एक्सपर्ट्स की भी राय ले सकता है। उन्हें बेहद फायदा मिलेगा। एक बात पर विशेष तौर पर छात्रों को ध्यान देना चाहिए, जब भी वह विषय का चुनाव करें तो यह अवश्य रुप से ध्यान दें कि वह अपनी पसंद का ही सब्जेक्ट चुने। साथ ही अपनी क्षमता और कैरियर के स्कोप (Career scope) को भी ध्यान में रखें, जो आगे चलकर उसे बेहतर परिणाम देगा।

Career after 12th Arts || आइये अब जानते हैं कि आर्ट्स स्ट्रीम वाले छात्रों के लिए कैरियर के कौन-कौन से बेहतरीन विकल्प है-

लेखन का कार्य

यदि आपको लिखने पढ़ने का शौक है, साथ ही आपकी साहित्य में भी रुचि है, तो लेखन का कार्य (Writing work) आपके लिए एक बेहतर कैरियर का ऑक्शन बन सकता है। इसके लिए आप जनरल BA या फिर लिटरेचर सब्जेक्ट (Literature subject) में कोई ऑनर्स कोर्स कर लेने के पश्चात लेखन को अपना पेशा बना सकते है। लेखन कार्य के लिए आपका कल्पनाशील और रचनात्मक होना बेहद जरूरी है, इसका विशेष तौर पर ध्यान रखें।

डिजाइनिंग कोर्सेज

डिजाइनिंग का क्षेत्र (Designing area) एक ऐसा क्षेत्र है, जो इंटरेस्टिंग के साथ साथ करियर ऑप्शन्स भी देता है। आर्ट्स के स्टूडेंट के लिए डिजाइनिंग के क्षेत्र में बेहतर कैरियर ऑप्शन्स है। डिजाइनिंग के क्षेत्र में जाकर आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स फैशन डिजाइनिंग, इंटीरियर डिजाइनिंग, प्रोडक्ट डिजाइनिंग, ज्वेलरी डिजाइनिंग, वेब डिजाइनिंग, फुटवियर डिजाइनिंग आदि कर सकते हैं। डिजाइनिंग के क्षेत्र में जाने से पहले स्टूडेंट्स अपनी रूचि और कौशल (Skill) पर विशेष रुप से ध्यान दें।

कानून में है दिलचस्पी तो कर सकते है लॉ की पढ़ाई

यदि आप हो बेहतर कैरियर बनाना है और आपकी रुचि कानून की पढ़ाई (Studying law) करने में है, तो लॉ की पढ़ाई एक बेहतर कैरियर ऑप्शन हो सकता है। इसके लिए सबसे पहले आपको बीए की डिग्री (BA degree) लेनी होगी, उसके बाद बैचलर ऑफ लेजेस्टिव (Bachelor of Legislative) की डिग्री भी लेनी होगी। फिर आप किसी भी वरिष्ठ वकील के साथ प्रैक्टिस कर सकते है।

मैनेजमेंट में बना सकते है कैरियर

जैसे ही हम मैनेजमेंट (Management) शब्द सुनते हैं हमें लगता है कि यह केवल कॉमर्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स (Commerce stream students) के लिए है, लेकिन ऐसा नहीं है। वर्तमान समय में बहुत से सर्टिफिकेट कोर्सेज और डिप्लोमा कोर्सेज भी आ चुके हैं, जो आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स भी BA करने के बाद कर सकते हैं। इसके लिए कॉमर्स स्ट्रीम से ही होना जरूरी नहीं है। इन कोर्सेस में होटल मैनेजमेंट (Hotel Management), डिजास्टर मैनेजमेंट (Disaster Management) आदि क्षेत्र शामिल है।

सिविल सर्विसेज की तैयारी

प्रशासनिक सेवा और सिविल सेवाओं से संबंधित कैरियर की संभावनाएं आर्ट्स स्ट्रीम के छात्रों के पास ज्यादा होती है, क्योंकि आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स को ग्रेजुएशन के विषयों और अपने स्ट्रीम का प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी (Competitive exam preparation) में बेहद मदद मिलती है। जिसके कारण आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट्स के लिए आईएएस (IAS), आईपीएस (IPS) और पीसीएस (PCS) जैसे प्रतियोगी परीक्षाओं को पास करना और भी आसान हो जाता है।

परफॉर्मिंग आर्ट्स है बेहतर कैरियर ऑप्शन

अक्सर देखा जाता है कि स्कूल से ही कई छात्रों का रुझान डांसिंग, एक्टिंग, सिंगिंग, थिएटर आदि में होता है। ऐसे स्टूडेंट्स के लिए परफॉर्मिंग आर्ट्स (Performing Arts) बेहतर कैरियर ऑप्शन है। इसके लिए BA ऑनर्स कोर्स में परफॉर्मिंग आर्ट्स (Performing Arts) लेकर पढ़ाई करनी होगी। जिसके बाद स्टूडेंट्स अपनी रूचि के अनुसार एक बेहतर कैरियर बना सकते हैं। वर्तमान में परफॉर्मिंग आर्ट्स स्ट्रीम के छात्रों के लिए टेलीविजन और सिनेमा में बेहतर कैरियर बनाने का मौका है।

मीडिया में बना सकते है बेहतर कैरियर

आप पत्रकरिता में अपना करियर बनाना चाहते है तो Journalism and mass communication आपके लिए बेहतर विकल्प है इसे 12th के बाद किया जा सकता है। Journalism and mass communication की Demand भविष्य में बढ़ती जा रही है। इंडिया के अन्दर Journalism and Mass Communication का स्कोप अभी बहुत अधिक है।

इस कोर्स को किसी भी स्ट्रीम के छात्र कर सकते है। आर्ट्स स्ट्रीम हो या सांइस स्ट्रीम या फिर कामर्स स्ट्रीम हो किसी भी स्ट्रीम के छात्र Journalism and mass communication का कोर्स कर सकते है। इस कोर्स को पूरा कर लेने के बाद आपको बहुत सारी नौकरीयॉ मिल सकती है जैसे- News channel, News Media में Scripting writing, Editing Reporting, Content Writing आदि।

ये भी पढें-   गजब! पार्ट टाइम शुरु की गई खेती सरकारी शिक्षक को दे रही लाखों का फायदा

पत्रकारिता (Journalism) में BA के छात्रों की विशेष रूचि होती है, लेकिन सही विषय का चयन नहीं करने के कारण वह पत्रकारिता के क्षेत्र (Field of journalism) में नहीं जा पाते। यदि आपको पत्रकारिता में कैरियर बनाना है तो आप BAJMC यानी BA पत्रकारिता एंव जनसंचार (Journalism and Mass Communication) में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त कर किसी भी मीडिया हाउस से अपनी कैरियर की शुरूआत कर सकते है। इसके अलावा यदि आपने ग्रेजुएशन किसी अन्य सब्जेक्ट से किया है, तो आप पोस्ट ग्रेजुएशन (MAJMC) कर सकते है।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.