Cyclone Tauktae Live

Cyclone Tauktae Live Update: जानिए चक्रवात ताउते की अब तक की पूरी जानकारी

भारत

तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae Live) अरब सागर में उत्पन्न होने वाला एक भयंकर चक्रवात है, जिसके वजह से वर्तमान समय में गुजरात और मुम्बई में भारी बारिश हो रही है। तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae Live) के लेकर अरब सागर से जुङे कई राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है। कर्नाटक में ताउते चक्रवात (Tauktae cyclone)  के साथ साथ तेज बारिश की वजह से चार लोगो की मौत भी हो गई है। तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae) अब काफी ताकतवर हो गया है, जिसके वजह से केरल, गोवा और महाराष्ट्र भीषण बारिश हो रही है इतना ही नही इन शहरों में Red Alert जारी किया गया है और मछुआरों को भी समुद्र की तरफ जाने पर रोक लगा दिया गया है।

इसे भी पढें-  Israel Hamas Conflict: क्या ये बड़ी जंग की शुरूआत है ?

तूफानी चक्रवात ताउते क्या है? What is Cyclone Tauktae?

तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae Live) यह नाम थोङा अजीब लग रहा है न? तो चलिए पहले यह बता दे की आखिर ताउते (Tauktae) का मतलब क्या होता है और कैसे रखा गया है यह नाम।

ताउते (Tauktae), दरअसल चक्रवात का यह नाम Myanmar ने दिया है, यह शब्द बर्मी भाषा से लिया गया है इसका यह नाम स्थानीय तट पर पाई जाने वाली एक छिपकली के नाम पर दिया गया है।

क्यों रखे जाते है चक्रवात के नाम? Why are cyclones named?

चक्रवात तूफानों के भी इस तरह के नाम रखने की एक पूरी प्रक्रिया है। चक्रवाती तूफानों के नाम रखने की परम्परा कई वर्षो से चली आ रही है। तूफानो के नाम रखने का मकसद यह होता है कि नामों के वजह से इन्हे आसानी से पहचाना जा सकता है। बस तूफान का नाम रखते वक्त यह ध्यान मे होना चाहिए कि नाम छोटा और साथ साथ समझने लायक होना चाहिए। इनके नाम दरअसल इसलिए दिया जाता है जिससे की मौसम विभाग को इन चक्रवात को लेकर कोई भी confusion न हो और साथ ही साथ इनके नामों के वजह से ही चक्रवात से सम्बंधित जानकारी एवं चेतावनी देने में आसानी होती है। इतना ही नही बाद में कभी इन पूराने तूफानो के बारे में कुछ बताया जा रहा तो वह नाम के वजह से आसानी से बताया जा सकता है।

तूफानी चक्रवात ताउते की अब तक क्या सूचना है? What is Cyclone Tauktae Live Update?

तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae Live) के आने की वजह से कई गावों को खाली करवाया गया है, लोगो को उनके घरो से निकाल कर relief camps में फिलहाल के लिए रखा जा रहा है। पूणे में तो तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae) के वजह से 70 घरो के साथ साथ Primary School, आंगनबाङी और ग्राम पंचायत दफ्तर सब नष्ट हो गये। वही गोवा में इस तूफान के वजह से सूबे में दो लोगो की मौत होने की खबर आई है। Chief Minister प्रमोद सावंत ने यह बताया की इस तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae) के वजह से मरने वाले की संख्या बढ सकती है। इस भारी तूफान के कारण गोवा में मूसलाधार बारिश हो रही है जिसके वजह से 500 से अधिक पेङ गिर गये है, गोवा की सङके Block हो गई है, अधिकतर इलाको (area) में बिजली नहीं है और फिलहाल condition को देखते हुए airport भी बंद कर दिये गये है। तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae) के वजह से गोवा के मनिपाल अस्पताल में dialysis यूनिट काफी ज्यादा प्रभावित हुआ है, इस भारी तूफान के कारण RO Tank पूरी तरह से नष्ट हो गया है। इस वजह से dialysis की प्रक्रिया फिलहाल दो हफ्तो के लिए रुक गई है।

तूफानी चक्रवात ताउते के चलते (Cyclone Tauktae Live) गुजरात में चल रहे COVID- Vaccination को दो दिन के टाल दिया गया है। गुजरात सरकार में 17 और 18 May को होने वोले Corona Vaccination Program को फिलहाल के लिए रोक दिया गया है। इतना ही नही तूफानी चक्रवात ताउते की चेतावनी मिलते ही गुजरात के Chief Minister विजय रुपाणी ने जिले के अलग अलग जिलाधिकारियों से आपातकालीन बैठक की थी जसमें उन्होने ताउते तूफान (Cyclone Tauktae) से बचने के उपायों का जायजा लिया। कर्नाटक में भी तूफानी चक्रवात ताउते के चलते (Cyclone Tauktae Live) कई बिजली के खम्बे (Electric Poles) एवं घर नष्ट हो गए। कई नोकाये (Boat) भी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुकि है और इसके साथ ही भारी बारिश भी हो रही है।

तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae Live) के लिए किए जाने वाले तैयारियों के लिए गृह मंत्री अमित शाह ने बैठक की और इस बैठक में उनके गुजरात, महाराष्ट्र, दादर और नहर हवेली एवं दमन-दीव के अधिकारी शामिल हुए। इस बैठक में गृह मंत्री ने Power Backup पर जोर देते हुए ताउते चक्रवात (Tauktae Cyclone) से प्रभावित राज्यों को Power Backup दिलाने का निर्देश दिया। इसके बाद उन्होने अस्पताल में कोरोना मरीजों पर भी ध्यान देते हुए चक्रवात के वजह से उन्हे किसी तरह का असुविधा न हो इसके भी निर्देश दिए। उन्होने इस तुफान से बचाव करने के लिए 24*7 Control Room भी खोल दिये और साथ साथ यह भी आदेश दिये कि ताउते चक्रवात (Tauktae Cyclone) से निपटने के लिए Air Force या Navy की जरुरत पङे तो केन्द्र सरकार हर तरह से मदद करने लिए तैयार बैठी है।

इस भारी तूफान को देखते हुए Indian Air Force को भी सतर्क रहने के लिए कहा गया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने दिल्ली में अफसरों के साथ meeting की जिसमें तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae Live) से निपटने के लिए पूरी योजना बनायी गयी और मछुआरों को समुद्र के पास जाने पर फिलहाल के लिए रोक लगा दी गयी है।

इसे भी पढें-  Goa Oxygen Crisis: कोरोना काल में एक समृद्ध राज्य की दयनीय दशा

देश में COVID-19 के वजह से वैसे ही सब जूझ रहे है और उसमें यह चक्रवात भी आ गया। इस भारी तूफान के कारण केवल कोरोना के मरीजों को ही नहीं बल्कि अन्य मरीजों को भी बहुत तकलीफ झेलनी पङ रही है। यह निर्णय करना मुश्किल है कि खुद को कोरोना से बचाये कि फिर तूफानी चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae Live) से।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.