Maa Shailputri Aarti in Hindi

माता शैलपुत्री आरती ॥ Maa Shailputri Aarti in Hindi

आरती

 माता शैलपुत्री आरती || Maa Shailputri Aarti in Hindi

 

शैलपुत्री मां बैल असवार। करें देवता जय जयकार।
शिव शंकर की प्रिय भवानी। तेरी महिमा किसी ने ना जानी।

पार्वती तू उमा कहलावे। जो तुझे सिमरे सो सुख पावे।
ऋद्धि-सिद्धि परवान करे तू। दया करे धनवान करे तू।

सोमवार को शिव संग प्यारी। आरती तेरी जिसने उतारी।
उसकी सगरी आस पुजा दो। सगरे दुख तकलीफ मिला दो।

घी का सुंदर दीप जला के। गोला गरी का भोग लगा के।
श्रद्धा भाव से मंत्र गाएं। प्रेम सहित फिर शीश झुकाएं।

जय गिरिराज किशोरी अंबे। शिव मुख चंद्र चकोरी अंबे।
मनोकामना पूर्ण कर दो। भक्त सदा सुख संपत्ति भर दो।

॥ Maa Shailputri Aarti in Hindi Ends॥

 

इसे भी पढें-  माता शैलपुत्री व्रत कथा और पूजन विधि || Mata Shailputri Vrat Katha and puja vidhi in hindi

 

Maa Shailputri Aarti In English  – Lyrics ( shailaputree maan bail asavaar)

shailaputree maan bail asavaar. karen devata jay jayakaar.
shiv shankar kee priy bhavaanee. teree mahima kisee ne na jaanee.

paarvatee too uma kahalaave. jo tujhe simare so sukh paave.
rddhi-siddhi paravaan kare too. daya kare dhanavaan kare too.

somavaar ko shiv sang pyaaree. aaratee teree jisane utaaree.
usakee sagaree aas puja do. sagare dukh takaleeph mila do.

ghee ka sundar deep jala ke. gola garee ka bhog laga ke.
shraddha bhaav se mantr gaen. prem sahit phir sheesh jhukaen.

jay giriraaj kishoree ambe. shiv mukh chandr chakoree ambe.
manokaamana poorn kar do. bhakt sada sukh sampatti bhar do.

॥ Mata Shailpututri Aarti  Ends ॥

 

इसे भी पढें-  Durga Chalisa in Hindi || दुर्गा चालीसा : हिन्दी अर्थ सहित 

इसे भी पढें- Ambe Mata Ki Aarti: दुर्गा जी की आरती ॥ Jai Ambe Gauri Maiya, Jaa Shyama Gauri

 

यदि आप चाहे तो माता शैलपुत्री की आरती (Maa Shailputri Aarti in Hindi) के लिए Prabhu Darshan मोबाईल ऐप डाउनलोड कर सकते है और जब कभी आपको जाप करने का मन करे तो आप बिना इंटरनेट कनेक्शन के भी पूजा पाठ कर सकते हैं।

 

Prabhu Darshan- 100 से अधिक आरतीयाँचालीसायें, दैनिक नित्य कर्म विधि जैसे- प्रातः स्मरण मंत्र, शौच विधि, दातुन विधि, स्नान विधि, दैनिक पूजा विधि, त्यौहार पूजन विधि आदि, आराध्य देवी-देवतओ की स्तुति, मंत्र और पूजा विधि, सम्पूर्ण दुर्गासप्तशती, गीता का सार, व्रत कथायें एवं व्रत विधि, हिंदू पंचांग पर आधारित तिथियों, व्रत-त्योहारों जैसे हिंदू धर्म-कर्म की जानकारियों के लिए अभी डाउनलोड करें प्रभु दर्शन ऐप।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.