IAS of Chhattisgarh misbehaved with a common man

Chhattisgarh : सूरजपुर कलेक्टर ने युवक की कर दी पिटाई, वीडियो वायरल, सीएम बघेल ने पद से हटाने का दिया आदेश

भारत राजनीति

कोरोना महामारी का प्रकोप (Corona epidemic outbreak) थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। जिसके चलते राज्य सरकार ने अपनी तरफ से लॉकडाउन (Lockdown) लगाया हुआ है। इसकी जिम्मेदारी उन्होंने जिला प्रशासन (District administration) के हाथों में सौंपी है। इस दौरान कोई भी व्यक्ति बिना आवश्यक काम के घूमते हुए दिखाई ना दे, साथ ही घरों से बाहर तभी निकले जब आवश्यक हो। इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन (District administration) प्रतिदिन गश्त कर रही है, साथ ही लोगों को समझा भी रही है। कई बार जिला प्रशासन (District administration) सख्त रवैया भी दिखाई दे रहा है, लेकिन इस बात का भी विशेष तौर पर ध्यान रखा जा रहा है कि किसी की भी हानि ना हो। लेकिन छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) राज्य के सूरजपुर जिले (Surajpur district) से एक ऐसी खबर सामने आ रही है, जहां कलेक्टर की दबंगई (Collector’s fault) सामने आई है। गश्त के दौरान सूरजपुर कलेक्टर रणबीर शर्मा (Surajpur Collector Ranbir Sharma) का एक वीडियो वायरल (Video viral) हो रहा है। जिसमें वह लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान घर से बाहर निकले एक युवक की पिटाई करते हुए नजर आ रहे हैं। इस वीडियो में पहले तो कलेक्टर ने युवक का मोबाइल ही जमीन पर पटक दिया, उसके बाद उसे थप्पड़ जड़ दिया। इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया (social media) पर खूब वायरल हो रहा है।

ये भी पढें-  Top 5 world biggest cricket stadium || विश्व के पॉच सबसे बङे क्रिकेट स्टेडियम

पूरे देश में वायरल हो रहा कलेक्टर की दबंगई

इस घटना को लेकर कलेक्टर की पूरे देश में चर्चा हो रही है। जिसके बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chhattisgarh Chief Minister Bhupesh Baghel) ने IAS को कलेक्टर के पद से बर्खाश्त करने का निर्देश दिया है। जैसे ही कलेक्टर की दबंगई सोशल मीडिया पर वायरल (Collector’s bullying goes viral on social media) होने लगी और यह प्रशासन तक पहुंची, वैसे ही सामान्य प्रशासन विभाग (Department of General Adminstration) ने कलेक्टर रणबीर शर्मा का ट्रांसफर (Collector Ranbir Sharma Transfer) करने का आदेश भी जारी कर दिया। बता दें कि कलेक्टर रणबीर शर्मा 2012 बैच के अफसर है। जिनका अब सूरजपुर जिले (Surajpur district) से हटाकर मंत्रालय में ट्रांसफर कर दिया गया है। वहीं सूरजपुर जिले का नया कलेक्टर गौरव कुमार सिंह (Surajpur’s new collector Gaurav Kumar Singh) को बनाया गया है, जो पहले रायपुर के जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी थे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कलेक्टर को हटाने का दिया आदेश

कलेक्टर रणबीर शर्मा (Collector Ranbir Sharma) द्वारा जो भी कृत्य किया गया है, उसे लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) काफी भड़के हुए नजर आए। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि ‘सूरजपुर कलेक्टर रणबीर शर्मा द्वारा एक नवयुवक से दुर्व्यवहार का मामला मेरे संज्ञान में आया है। यह बेहद दुखद और निंदनीय है। छत्तीसगढ़ में इस तरह का कोई कृत्य कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। रणबीर शर्मा को तत्काल प्रभाव से हटाने के निर्देश दिए हैं।‘ आगे उन्होंने लिखा है कि ‘किसी भी अधिकारी का शासकीय जीवन में इस तरह का आचरण स्वीकार्य नहीं है। इस घटना से मैं क्षुब्ध हूं। मैं नवयुवक व उनके परिजनों से खेद व्यक्त करता हूं’।

वायरल वीडियो में कलेक्टर क्या कह रहा, आप भी जानिए…

अब आपको बताते हैं कि आखिर वायरल वीडियो में कलेक्टर क्या कह रहे हैं। जो वीडियो वायरल (Video viral) हो रहा है उसमें कलेक्टर रणबीर शर्मा पुलिसकर्मियों से यह कह रहे हैं कि यह युवक रिकॉर्डिंग कर रहा है। जिसके बाद कलेक्टर ने युवक की मोबाइल को जमीन पर पटक दिया और उसे एक थप्पड़ भी जड़ दिया, जबकि युवक कहता रह गया कि मैं कोविड टेस्ट (Covid test) करवाने जा रहा हूँ, मेरी पर्ची भी देख लीजिए, लेकिन कलेक्टर ने एक ना सुनी और पुलिसकर्मियों (Policemen) से कहा कि देख रहे हो यह रिकॉर्डिंग कर रहा था। जिसके बाद पुलिस के दो से तीन जवान आगे आते हैं और डंडों से युवक की पिटाई करते हैं, कलेक्टर वही सामने खड़े रहते हैं। इस दौरान युवक कहता रह गया कि भगवान की कसम मैं टेस्ट करवाने जा रहा, यह मेरी पर्ची भी देख लीजिए। इसके बावजूद भी कलेक्टर ने कहा कि इसके खिलाफ एफ आई आर (FIR) दर्ज करवाओ।

प्रशासन उस युवक को देगा नया मोबाइल फोन

यह पूरी घटना शनिवार की है। जिसकी जानकारी सीएमओ (CMO) को होने पर उन्होंने कहा कि इस कृत्य को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। साथ ही ट्वीट कर लिखा है कि ‘मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) जी ने निर्देश देते हुए कहा है कि सूरजपुर (Surajpur) में कलेक्टर द्वारा नवयुवक के साथ किए गए दुर्व्यवहार के दौरान नवयुवक के क्षतिग्रस्त मोबाइल की प्रतिपूर्ति के रूप में उस नवयुवक को नया मोबाइल फोन दिया जाएगा’।

छत्तीसगढ़ के अलावा अन्य राज्यों के लोगों ने भी जाहिर किया गुस्सा

बता दे कि जैसे ही कलेक्टर का वीडियो वायरल (Collector’s Video Viral) हुआ वैसे ही हर जगह हड़कंप मच गया। लोगों ने इस घटना को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह के सवाल भी खड़े किए हैं। साथ ही कहा है कि IAS अफसर अपने पद के घमंड में लोगों की तकलीफ को भूल गए हैं, तो वही किसी व्यक्ति ने कलेक्टर के इस तरह के रवैये को गैर जिम्मेदार (irresponsible) भी कहा है। इस घटना को लेकर छत्तीसगढ़ राज्य के अलावा अन्य राज्यों के लोगों ने भी वीडियो को शेयर करते हुए अपना गुस्सा जाहिर किया है।

शनिवार को कलेक्टर के गुस्से के कई लोग हुए शिकार

वीडियो के वायरल होते ही, और भी जानकारी सामने आई है कि शनिवार को कई लोग कलेक्टर के गुस्से के शिकार हुए हैं। लोगों का कहना है कि लॉकडाउन (lockdown) के गश्त (patrolling) के दौरान यदि कोई व्यक्ति मिला तो कलेक्टर ने उसकी पुलिस से पिटाई करवा दी। इस दौरान यदि किसी के ऊपर दया आ जाती तो कलेक्टर चालान काटकर उसे आगे जाने देते। एक और भी मामला सामने आया है, जहां गश्त के दौरान एक बाइक सवार युवक को रोका गया। जब युवक ने अपना आई कार्ड दिखाया, तब कलेक्टर साहब ने उसके आई कार्ड को अनदेखा कर दिया और पुलिस जवानों से कहा कि क्या देख रहे हो इसे डंडा लगाओ। जिसके बाद डरते हुए युवक बाइक से उतरा और उन्होंने कहा कि सर.. मेरी कोविड में ड्यूटी लगी है, मैं एक कर्मचारी हूं। जिसके बाद उसे आगे जाने दिया गया।

कलेक्टर रणबीर शर्मा पहले कहा- यह वीडियो एडिटेड क्लिप हैं

सूरजपुर कलेक्टर रणबीर शर्मा (Collector Ranbir Singh) द्वारा किए गए कृत्य का वीडियो जैसे ही सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा और प्रशासन को इसकी भनक लगी, तो कलेक्टर सफाई देने लगे (Collector started clarify)। जिसमें कलेक्टर रणबीर ने कहा कि यह तो एडिटेड क्लिप है। उन्होंने कहा कि टोटल लॉकडाउन का पालन (Total Lockdown Followed) करवाते समय कई लोग लापरवाही बरतते हैं। वीडियो में जो युवक दिख रहा है, वह खुद को नाबालिग कह रहा था, फिर उसी दौरान कह रहा था कि वह टेस्ट करवाने गया था। लेकिन इस पूरे मामले को लेकर जो डंडा मारने वाला वीडियो है उसी को ही जानबूझकर वायरल किया जा रहा है।

कलेक्टर रणबीर शर्मा ने देर रात मांगी माफी

इस घटना को लेकर सफाई देने के बाद देर रात खुद रणबीर शर्मा ने एक वीडियो बनाया और इमोशनल माफी मांगी है। जिसमें वह कह रहे हैं कि सूरजपुर जिले की स्थिति ठीक नहीं है। मेरे माता और पिता कोविड-19 से पीड़ित है। फिलहाल मैं पॉजिटिव नहीं हूं, लेकिन मेरी मां कोविड संक्रमित है। इसलिए कोविड-19 के शरीर में जो भी घटनाएं होती है, वह मैं बखूबी समझ सकता हूं।

ये भी पढें-    कमलनाथ ने शिवराज सरकार ये पूछे भारतीय कोरोना पर सवाल, गृह मंत्री ने किया पलटवार

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.