Vegetables and Fruits Peels Benefit

फलों और सब्जी के छिलके स्वास्थ के लिए बहुत लाभदायक होते है, जाने इनके फायदे || Vegetables and Fruits Peels Benefit

भारत स्वास्थ्य

सब्जियों और फलों (vegetables and fruits) का इस्तेमाल हम अपनी आम जिंदगी में रोजाना ही करते हैं। फल और सब्जियों से हमारे शरीर को कई ऐसे तत्व मिलते हैं जो हमें सेहतमंद रखते हैं। सब्जी और फल का सेवन करते हुए आम तौर पर हम इन के छिलके (Vegetables and Fruits Peels) को हटाकर कचरे में फेंक देते हैं। बहुत कम लोग ही जानते हैं कि जिस तरह सब्जियों और फलों में पोषक तत्व (Nutrients) होते हैं उसी तरह इनके छिलकों में भी कई तरह के न्यूट्रीशनल गुण (Nutritional properties) पाए जाते हैं, जो शरीर में आ रहे विकारों से निजात पाने के लिए काफी सहायता करते हैं। एक शोध में पता चला है कि डार्क रंग के छिलकों में कई तरह के गुण भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, इन छिलकों में कंसंट्रेटेड फाइटोकैल्शियम (Concentrated Phytocalcium) पाया जाता है जो फलों और सब्जियों का रंग बिरंगा हिस्सा बताया जाता है। वही शोध में यह भी पता चला है कि खट्टे फल जैसे संतरा और मौसमी के छिलकों में भी सुपर फ्लेवोनॉयड (super flavonoids) मौजूद होता है, जोकि बैड कोलेस्ट्रॉल (bad cholesterol) के स्तर को कम करने में काफी कारगर है, इसके साथ ही जब ब्लड फ्लो (blood flow) होता है इस दौरान धमनियों के ऊपर सुपर फ्लेवोनॉयड ज्यादा दवाब नहीं पढ़ने देता और यह हार्ट (Heart) को सेफ रखने के भी काम आता है।

ये भी पढें-  Amla ke fayde in Hindi || आंवला का सेवन क्यों है जरूरी और नुकसान क्या है | आंवला के फायदे व नुकसान

Table of Contents

सब्जी और फलों के छिलके के फायदे || Vegetables and Fruits Peels Benefit

ब्लड कोलेस्ट्रॉल कम करते है सेब के छिलके

एन एप्पल ए डे कीप्स द डॉक्टर अवे (An Apple A Day, keeps the Doctor Away) यह कहावत तो हम बचपन से ही सुनते हुई आए हैं। ऐसा माना जाता है कि अगर हम रोजाना सेब (Apple) का इस्तेमाल करते हैं तो यह हमारे शरीर को स्वस्थ रखता है। लेकिन क्या आप जानते हैं सेब के छिलके (Apple peels) में भरपूर फाइबर होता है जिससे डाइजेशन  (Digestion) काफी अच्छा होता है। लेकिन अक्सर हम सेब के छिलकों को फेंक कर सिर्फ सेब का ही सेवन करते हैं। सेब के छिलकों में पेक्टिंग (Pectin) नाम का फाइबर होता है, जिससे बैड कोलेस्ट्रॉल कम होता है और यह ब्लड में शुगर को कंट्रोल (Sugar level Control) करने का काम भी करता है। इसके साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण (Antioxidant properties) कैंसर सेल्स (Cancer Cells) को भी कंट्रोल करने में सहायता प्रदान करता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाते है आलू के छिलके

आलू को तो सब्जियों का राजा  माना गया है‌, आलू हर वर्ग के लोग द्वारा पसंद किया जाता है। जिस तरह से आलू में कई तरह के गुण होते हैं जो हमें सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है, लेकिन आलू का सेवन करने से पहले इसके छिलकों (Potato Peels) का हम इस्तेमाल ना करते हुए इसे डस्टबिन में डाल देते हैं। गौरतलब है कि आलू के छिलकों में फाइबर (Fibres) के साथ ही जिंक (Zinc), विटामिन सी (Vitamin C) , आयरन (Iron), पोटेशियम (Potassium), विटामिन बी (Vitamin B) भरपूर मात्रा में पाया जाता है, इसके साथ ही इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण (Antioxidant properties) भी होते हैं। आलू के छिलकों में भरपूर गुण होने के चलते हमें कोशिश करना चाहिए कि हम बिना छिले ही इसका का सेवन करें, क्योंकि यह सेहत के लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है। इसके साथ ही यह रोग प्रतिरोधक क्षमता (immunity) को बढ़ाने का भी काम करता है, जो हम जल्दी बीमार होने से बचाता है और आलू के छिलके डाइजेशन के साथ ही स्किन के लिए भी काफी फायदेमंद माने जाते हैं।

चेहरे पर ग्लो और मुहांसो के दागों से भी छुटकारा दिलाते है केले के छिलके

सेव और आलू के छिलके की तरह ही केले के छिलके भी काफी फायदेमंद होते हैं, लेकिन इनकी फायदों के बारे में ना पता होने के कारण हम केले के छिलकों (Banana Peels) को भी आलू और सेब के छिलकों की तरह फेंक देते हैं। अगर हम केले के छिलके का सेवन करते हैं तो इससे हमारी बॉडी में सेरोटोनिन (Serotonin) नाम का हार्मोन रिलीज होता है, जिसे फील गुड हार्मोन (feel good hormones) भी कहा जाता है। यह हमारी मन की उदासी और बेचैनी के भाव को कम करने में काफी मदद करता है और हमें खुश रखता है। इसके साथ ही इसमें ल्यूटिन नाम का एंटीऑक्सीडेंट (lutein called antioxidant)   भी पाया जाता है, जो आंखों के सेल्स को अल्ट्रावॉयलेट किरणों (ultraviolet rays) से बचाने में मदद करता है और मोतियाबिंद (Cataracts) के खतरे को भी यह कम कर देता है। केले के छिलके को पानी में उबालकर किया जा सकता है या फिर इसको सब्जी के रूप में भी खाया जा सकता हैं। वहीं अगर केले के छिलके (Banana Peels) को चेहरे पर रगड़ कर मसाज की जाएं तो इससे स्किन पर काफी पॉजिटिव असर पड़ता है और साथ ही चेहरे का ग्लो ही बढ़ता है और मुहांसो के दागों से भी छुटकारा मिलता है।

कैंसर के खतरे से बचाते है कद्दु के छिलके

कद्दू के छिलके (Pumpkin peels) के भी काफी फायदे होते हैं, दरअसल का कद्दु के छिलके में  बीटा कैरोटीन (Beta carotene) पाया जाता है जो फ्री रैडिकल्स (free radicals) से हमें बचाता है। कद्दू के छिल्लके में पाए जाने  बीटा कैरोटीन (Beta carotene) हमारे शरीर को कैंसर के खतरे से भी बचाता है। इसके साथ ही कद्दू के छिलके में जिंक (Zinc) पाया जाता है जो हमारी इम्यूनिटी (Immunity) को बढ़ाता है, साथ ही  जिंक हमारे नाखूनों को भी मजबूत बनाता है। हमारी स्किन सेल्स को अल्ट्रावॉयलेट रेज से भी बचाने में कद्दू का छिलका कारगर माना गया है। इसलिए हमें हमेशा प्रयास करना चाहिए कि हम कद्दू का इस्तेमाल इसके छिलके (pumpkin peels) के साथ ही करें क्योंकि यह हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है।

दांत दर्द और चहरे की समस्याओं को दूर करते है संतरा और मौसंबी के छिलके

खट्टे फलों के लिए मशहूर संतरा और मौसंबी के जिस तरह फायदे हैं उतने ही उसके छिलके के भी फायदे होते हैं। संतरे और मौसंबी के छिलकों (Peels of Orange and Mausambi) में सुपर-फ्लैवोनॉयड (Super-flavonoids) पाया जाता है जो हमारे बॉडी में बैड कोलेस्ट्रॉल (Bad cholesterol) के स्तर को कम करता है, जिससे हमारे दिल को सुरक्षित करने में काफी मदद मिलती है। मौसंबी के छिलके को अगर दांत दर्द के समय इस्तेमाल किया जाए तो इससे काफी राहत मिलती है। मौसंबी के छिलके को पीसकर उसका पेस्ट बना लें और दांत में जहां दर्द हो रहा है वहां पर लगा ले, ऐसा करने से दांत में आराम मिलता है। वहीं अगर संतरे के छिलके को खाया जाए तो यह शरीर से विषाक्त पदार्थ को बाहर निकालने में काफी सहायता करता है। संतरे के छिलके में फाइबर, विटामिन सी, कैल्शियम और बाकी पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो कि शरीर के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। वही संतरे के छिलके का फेस पैक बनाकर भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है जिसके लिए संतरे के छिलके का पहले पाउडर बना लें फिर इसमें दो चुटकी हल्दी और गुलाब जल मिलाकर इसका पेस्ट बना लें, इसके बाद इसे चेहरे पर लगाएं और 5 मिनट तक वैसे ही रहने दें। फिर इसे पानी के साथ धो लें ऐसा करने से आपन नेच्युरल तरीके से सभी स्किन रिलेटेड समस्याओं से छुटकारा पा सकेंगे।

सर्दी, खासी और फ्लू और गले की समस्या से बचाते है प्याज के छिलके

प्याज (Onion) एक ऐसी सब्जी है जिसका उपयोग हर बार खाना बनाने के लिए करते है। जिस तरह से प्याज खाने के स्वाद में चार चांद लगा देते है उसी तरह उसमें कई गुण पाए जाते है जो हमारे सेहत के लिए काफी फायदा करते है। वहीं प्याज के साथ ही उसके छिलके (Onion Peel) भी कई तरह के गुणों से युक्त होते है, जो हमारे शरीर पर कई पॉजिटिव प्रभाव डालता है। दरअसल, प्याज के छिलके (Onion Peel) में विटामिन सी और ई (Vitamin C and E) पाया जाता है जो चेहरे की सुंदरता को बढ़ाता है। इसके साथ ही चेहरे को ग्लों भी बढ़ता है। वहीं इसमें एंटिफंगल गुण (Anti fungal) पाए जाते है जो शरीर में हो रही खुजली से फायदा देता है। इसके साथ ही प्याज के छिलके में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुणों (Anti-inflammatory and antioxidant properties) से भरपूर होता जो हमे सर्दी, खासी और फ्लू से बचाता है, इसके साथ ही ये हमें मौसमी संक्रमण के खतरे से भी बचाता है। इसके साथ ही इसमें पाई जाने वाला विटामिन सी (Vitamin C) हमारी इम्यूनिटी (Immunity) को बढ़ाने के काम आता है। वहीं अगर आपका गला खराब है तो आप प्याज के छिलके (Onion Peel) का इस्तेमाल कर इसे ठीक कर सकतें है। जिसके लिए प्याज के छिलकों को पानी में उबालकर प्रयोग में ले सकते है, जिससे आपको खराब गले से राहत मिलेगी।

पैरों की सूजन और सर्दी जुकाम में लाभदायक है लहसुन के छिलके

लहसुन (Garlic) सब्जी में पढ़ते ही उसके स्वाद को बढ़ा देता है। लहसुन में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि लहसुन के साथ-साथ उसके छिलके (Garlic Peels) भी काफी फायदेमंद होते हैं। लहसुन के छिलके (Garlic Peels) में एंटी बैक्टीरियल (anti bacterial) , एंटी वायरल (anti viral), और एंटी फंगल गुण (anti fungal properties) पाए जाते हैं जो कि हमें सेहतमंद और हमारी सुंदरता को सवारने में काफी अच्छे साबित होते हैं। लहसुन के छिलकों (Garlic Peels) से आप पैरों की सूजन को दूर कर सकते हैं। जिसके लिए आपको गर्म पानी में लहसुन के छिलकों को उबाल लेना है और पानी को गुनगुना हो जाने तक ठंडा कर लें। इसके बाद अपने पैर इसमें डुबोकर कुछ देर रख दें इससे आपको काफी आराम मिलेगा। वही सर्दी जुकाम के लिए भी लहसुन के छिलके (Garlic Peel) काफी फायदेमंद होते है। लहसुन के छिलके को पानी में डालकर उबाल लें और फिर इस पानी का सेवन करने से सर्दी जुखाम में जल्द राहत मिलती है। अगर आपको स्किन पर खुजली (Itchy skin) की दिक्कत आ रही है तो इसमें भी लहसुन के छिलके का इस्तेमाल किया जा सकता है।

लहसुन के छिलके को पानी में उबालकर मिलेगी शरीर पर खुजली से राहत तो बालों से जू और अन्य समस्या होगी दूर

लहसुन के छिलके (Garlic Peels) को पानी के साथ मिलाकर उबाल ले और फिर इस पानी को उस जगह पर लगाएं जहां पर खुजली हो रही है, ऐसा करने से काफी राहत मिलेगी। बालों में होने वाली जू के लिए भी लहसुन काफी कारगर है। लेहसुन के छिलके (Garlic Peels) को जरा सा पानी में डालकर अच्छी तरह पीस लें और फिर इसका एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर ले। इस पेस्ट में कुछ बूंदे नींबू की रस डालकर, इन्हें बालों की जड़ों पर लगा ले। इससे जू की समस्या से आपको निजात मिलेगा। ना सिर्फ ये बालों में जू (Hair lice) की दिक्कत को दूर करता है बल्कि बालों से जुड़ी और समस्याओं से भी लहसुन का छिलका निजात दिलाता है। बालों में अगर ड्राइनेस (Hair Dryness) है, रूसी (Dandruff) है तो उसको दूर करने के लिए लहसुन के छिलके (Garlic Peel) को पानी में उबाल लें और फिर इस पानी को ठंडा हो जाने पर इससे अपने बालों को धो ले, ऐसा करने से बालों में कई चमत्कारी रूप देखने को मिलेंगे। ना सिर्फ इंसान के लिए बल्कि पौधों के लिए भी लहसुन के छिलके काफी कारगर साबित होते है। अगर आप गार्डनिंग (Gardening) करने के शौकीन है तो इसका इस्तेमाल पौधों के प्राकृतिक उर्वरक (natural fertilizers) के रूप में भी किया जा सकता है। यह पौधों को हेल्थी रखने में काफी अहम भूमिका निभाता है। लहसुन के छिलके को ना फेंकते हुए इनके छिलकों का भी इस्तेमाल अगर खाने के में किया जाए तो यह खाने का स्वाद बढ़ा सकता है। साथ ही खाने को पौष्टिक बनाने में भी ये मदद करता है। लहसुन के छिलके को सब्जियों में, सूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

पेट की समस्या से निजात दिलाते है खीरे के छिलके

गर्मियों में खीरे (Cucumbers) का इस्तेमाल बहुत किया जाता है। यह शरीर को ठंडक देने के लिए काफी कारगर साबित होता है। ज्यादातर खीरे (Cucumbers) को सलाद में यूज किया जाता है। खीरे में काफी कम मात्रा में कैलोरी (calories) पाई जाती है जिसकी वजह से मोटापा कम (Weight Loss) करने वाले लोगों के लिए एक वरदान है। ना सिर्फ खीरा बल्कि इसका छिलका (Cucumber Peels) भी काफी फायदेमंद होता है। खीरे के छिलके में फाइबर (Fibre) मौजूद होता है जो जल्दी घुलता नहीं है और फाइबर को पेट के लिए काफी अच्छा माना जाता है। कब्ज (Constipation) की परेशानी से जूझ रहे लोगों के लिए यह रामबाण की तरह है। खीरे के छिलके (Cucumber Peels) को खाने से पेट अच्छी तरह से साफ हो जाता। वहीं अगर आप वजन कम करने के बारे में सोच रहे हैं तो खीरे के छिलके को अपनी डाइट में ले सकते हैं। वही खीरे में विटामिन (Vitamin) पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। खीरे में पाए जाने वाले विटामिन प्रोटीन (protein) को अलग करने का काम करता है जिसके कारण कोशिकाओं के विकास में काफी मदद मिलती है। वही खीरे के छिलका शरीर में ब्लड क्लॉटिंग (blood clotting) की समस्याओं को पनपने नहीं देता है। आंखों के लिए भी खीरे का छिलका काफी अच्छा माना जाता हैं। खीरे के छिलके में बीटा कैरोटीन (beta carotene) पाया जाता है, जिससे आंखों की रोशनी अच्छी होती है। गर्मी के मौसम में अक्सर हम टैन और स्किन बर्न (tan and skin burn) जैसी समस्या से जूझते हैं। इसके लिए भी खीरे के छिलका काफी फायदेमंद होता हैं, यह तो स्किन के रूखापन भी कम करता है और ये नेचुरल स्किन को मोशचर्राइज करने का काम करता है। टैन और स्किन बर्न को कम करने के लिए खीरे के छिलके (Cucumber Peels) को हाथ पर लगा ले। इसके साथ ही इसके छिलके को सुखाकर इसमें गुलाब से मिलाकर इसका फेस पैक (Face Pack) बनाकर भी इस्तेमाल किया जा सकता है, यह काफी फायदेमंद साबित होगा।

ये भी पढें-  जामुन खाने के फायदे और नुकसान || Jamun Khane ke Fayde aur Nuksan in Hindi

ब्लड प्रेशर और शुगर लेवल को कंट्रोल करते है तरबूज के छिलके

बॉडी को हाइड्रेट (Body Hydrate) करने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले तरबूज के छिलके भी कई तरह से फायदा करते हैं। गौरतलब है कि तरबूज (Watermelon) को गर्मी में सबसे पसंद किए जाने वाला फल माना जाता है। इसमें 90% पानी होता है यही कारण है जो यह बॉडी को हाइड्रेट रखता है। गर्मी में इसका सेवन करने से डिहाइड्रेशन (Dehydration) से बचा जा सकता है। वही तरबूज के छिलके (Water melon peel) के फायदे के बारे में बात की जाए तो जिन लोगों को नींद ना आने की समस्या है उनके लिए तरबूज के छिलके (Water melon peel) काफी फायदेमंद होते हैं। तरबूज के छिलकों में कई तरह के पोषक तत्व और मैग्नीशियम (Nutrients and Magnesium) पाया जाता है जिससे अच्छी नींद आती है। वही ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) के मरीज भी तरबूज के छिलके का इस्तेमाल कर सकते हैं। तरबूज के छिलकों में फाइबर (Fibre) की मात्रा पाई जाती है जो ब्लड प्रेशर और शुगर लेवल (Blood Pressure and Sugar level) को कंट्रोल करने में काफी सहायक होता है। वही यह पाचन प्रक्रिया (digestive process) को भी तंदुरुस्त करने के काम आता है। तरबूज के छिलकों में लाइकोपिन (lycopene), फ्लेवोनोइड (flavonoids) और एंटी ऑक्सीडेंट (anti oxidant) काफी अच्छी मात्रा में पाया जाता है जिसके कारण उसे त्वचा के लिए काफी अच्छा माना जाता है, इसका इस्तेमाल करने से त्वचा हेल्दी रहती है। अगर आप वजन कम करने का मन बना रहे हैं तो तरबूज के छिलके (Watermelon peel) इसके लिए आपकी सहायता कर सकते हैं। तरबूज के छिलकों में कम कैलोरी (calories) पाई जाती है जो मेटाबॉलिज्म (metabolism) को बढ़ाती है और इसका सेवन करने से वजन को कंट्रोल करने में काफी मदद मिलती है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.